Dushyant Chautala News


1
नौकरी खोने की तलवार लटक रही हो, तो कैसे पढ़ा पाएंगे बच्चों को शिक्षक

शिक्षकों के 52 हजार पद खाली पड़े हैं शिक्षकों के 

नई दिल्ली, हिसार: बरसों से हरियाणा के सरकारी स्कूलों में कार्यरत गेस्ट टीचर्स और कम्प्यूटर टीचर्स की नियमित भर्ती का मुद्दा सत्र के पहले ही दिन लोकसभा में गूंजा। इनेलो संसदीय दल के नेता व हिसार से सांसद दुष्यत चौटाला ने गेस्ट टीचर्स और कंप्यूटर टीचर्स का मुद्दा उठाते हुए केंद्र सरकार से इन्हें पक्का करने की मांग की। सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जब शिक्षकों पर नौकरी से हटने की तलवार लटक रही हो तो वह बच्चों को अच्छी शिक्षा कैसे दे सकते हैं। 
इनेलो सांसद ने निशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार वित्तीय संशोधन बिल पर चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि हरियाणा सहित देश के कई अन्य राज्यों में अतिथि अध्यापक व शिक्षामित्र बरसों से कार्यरत हैं परन्तु इनकी नौकरी पर सुप्रीम कोर्ट की तलवार लटक रही है। यदि किसी शिक्षक पर नौकरी खोने का डर हो तो भला व अपने शिक्षण कार्य से कैसे न्याय कर पाएगा। उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल किया कि केंद्र सरकार स्पष्ट करे कि गेस्ट टीचर्स की नियमित करने के लिए वह क्या कदम उठा रही है। 
इनेलो सांसद ने कहा कि हरियाणा में 52 हजार से अधिक शिक्षकों के पद खाली पड़े हैं। उन्होंने बिल संशोधन के तहत देश में पांचवी व आठवीं कक्षा में बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित करने के फैसला का स्वागत तो किया परन्तु उन्होंने इतनी बड़ी संख्या में विद्यार्थियों के लिए परीक्षाएं आयोजित करने प्रणाली और तौर तरीकों को लेकर सवाल खड़े किए।  उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी है और बिना शिक्षकों के सरकारी स्कूलों में बच्चे ड्राप आउट हो जाने का खतरा बढ़ जाएगा। उन्होंने कहा कि खेद की बात है कि जो गेस्ट टीचर्स स्कूलों में लगे हैं उनको नियमित करने के लिए सरकार विचार नहीं कर रही है। 

काबरेल स्कूल में सभी छात्राएं फेल हो गई...
युवा सांसद दुष्यंत ने लोकसभा में गांव काबरेल के सरकारी स्कूल का हवाला देते कहा कि स्कूल में शिक्षकों की कमी के चलते वहां पढऩे वाली सभी छात्राएं बोर्ड की परीक्षा में फेल हो गई। सांसद ने कहा कि दसवीं की कक्षा में सभी छात्राएं इसलिए फेल हो गई क्यों कि उपरोक्त स्कूल में विभिन्न विषयों के शिक्षक स्कूल में थे ही नहीं। उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल पूछा कि केंद्र सरकार इन खाली पड़े पदों पर नियमित भर्ती के लिए क्या जरूरी कदम उठाने जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में स्थायी शिक्षकों की कमी के चलते पिछले पांच वर्षों में पांच लाख 87 हजार से अधिक बच्चों की कमी हो गई है। 

कंप्यूटर टीचर की नियमित भर्ती करे सरकार
दुष्यंत ने लोकसभा में कहा कि सरकार ने विभिन्न स्कीमों के तहत कम्प्यूटर तो सरकारी स्कूलों में भेज दिए परन्तु इनके लिए कम्प्यूटर टीचर नहीं है और न ही सरकारी स्कूलों में बिजली की व्यवस्था है। इनेलो सांसद ने कहा कि आईटी को बढ़ावा देने के लिए सरकार स्कूलों में कम्प्यूटर टीचर्स की नियमित भर्ती करे। 


Thu, 19 Jul 2018
2
सत्ता में आने पर निजी कंपनियों में 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा- दिग्विजय चौटाला 


रोहतक/बहादुरगढ़, 18 जुलाई : इनसो के स्थापना दिवस के आयोजन का न्यौता देने बहादुरगढ़ और रोहतक पहुंचे इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में इनेलो-बसपा गठबंधन की सरकार बनेगी। उन्होंने यह भी कहा कि सत्ता में आने के बाद युवाओं को पूर्ण भागीदारी दी जाएगी। साथ ही प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के लिए निजी कंपनियों में 50 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा। 
इनसो नेता ने यह भी कहा कि किसानों के लिए ट्यूबवैल व उसका कनेक्शन इनेलो सरकार आने पर मुफ्त दिया जाएगा। गरीब की बेटी की शादी में 5 लाख रुपए कन्यादान के तौर पर इंडियन नेशनल लोकदल की सरकार देने का काम करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था चरमराई हुई है। महिलाओं व बच्चों पर अपराध की दर बढ़ी है। भाजपा के शासन में प्रदेश का आपसी भाईचारे को तोडऩे का भी काम किया है। कांग्रेस व भाजपा ने मिलकर प्रदेश को तीन बार हिंसा आग में जलाया है। 
उन्होने बड़ी संख्या में युवाओं से 5 अगस्त को कैथल में पहुंचने का आह्वान किया। इस अवसर पर युवाओं ने युवा नेता को डा. अजय सिंह चौटाला और युवा सांसद दुष्यंत चौटाला की प्रतिमाएं स्मृति चिह्न के रूप में भेंट की।

Wed, 18 Jul 2018
3
अपराधिक मामलों में भाजपा ने पेश किये गलत आंकड़े- कृष्ण गुम्बर 


सिरसा: इनेलो के शहरी प्रधान कृष्ण गुंबर ने कहा कि जब से विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला ने प्रदेश में एसवाईएल का मुद्दा जोरशोर से उठाना आरंभ किया है तभी से सत्तापक्ष और कांग्रेस नेताओं को तकलीफ होनी आरंभ हो गई हैं क्योंकि दोनों ही राजनीतिक दलों के नेता नहीं चाहते कि एसवाईएल का पानी हरियाणा के किसानों को मिले और वे खुशहाल बनें। बुधवार को जारी बयान में इनेलो पदाधिकारी ने कहा कि आज पूरे हरियाणा में इनेलो बसपा गठबंधन की चर्चा है और लोग अधिक से अधिक संख्या में गठबंधन से जुड़ रहे हैं क्योंकि गठबंधन का मुख्य उद्देश्य किसान और कमेरा वर्ग को लाभान्वित करना है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से गठबंधन को प्रदेश में समर्थन हासिल हो रहा है, निश्चित ही आने वाला समय गठबंधन का होगा। गुंबर ने कहा कि गठबंधन ने हमेशा जनहित के मुद्दों को लेकर संघर्ष किया है और इस बार भी एसवाईएल जैसे संवेदनशील मुद्दे पर इनेलो बसपा गठबंधन जेल भरो आंदोलन के माध्यम से केंद्र सरकार को संदेश दे रहे हैं कि वह सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को जल्द से जल्द लागू कराए। उन्होंने कहा कि हरियाणा की जीवनरेखा माने जाने वाली एसवाईएल के लिए इनेलो ने पिछले दो सालों के दौरान विभिन्न चरणों में जो संघर्ष किया है, उससे प्रदेशवासियों को स्पष्ट हो चुका है कि यही दल पूरी तरह से हरियाणा के हितों को संरक्षित करने वाला है। उन्होंने कहा कि भाजपा आज केवल झूठी घोषणाओं और जुमलों की पार्टी बनकर रह गई है। गुंबर ने कहा कि प्रदेश की जनता से छलावा करने वाली भाजपा की नीतियों से आज किसान, गरीब, कमेरा, दलित, व्यापारी, महिला, युवा सहित सभी वर्ग परेशान हैं और सड़कों पर प्रदर्शन को मजबूर हैं। इनेलो पदाधिकारी ने कहा कि प्रदेश में बढ़ी आपराधिक घटनाओं से आज प्रत्येक हरियाणवीं का सिर शर्म से झुक गया है और भाजपा गलत आंकड़ा देकर लोगों को गुमराह करने पर तुली है। उन्होंने कहा कि केंद्र में भाजपा ने प्रत्येक वर्ष 2 करोड़ रोजगार देने की घोषणा की थी। उसके अलावा हरियाणा में कर्मचारियों को पंजाब की तर्ज पर वेतनमान देने, व्यापारियों को अधिकाधिक सुविधाएं देने, महिलाओं को सुरक्षा देने, युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने जैसे अनेक वायदे किए थे जिनमें से साढ़े तीन वर्ष से अधिक का समय बीतने के बावजूद एक भी पूरा नहीं किया गया। भाजपा सरकार केवल विकास का झूठा नारा देकर लोगों को छल रही है मगर अब प्रदेशवासी उसकी असली हकीकत जान चुकी है। आगामी चुनावों में प्रदेशवासी उसे सत्ता से बेदखल कर इनेलो बसपा गठबंधन को मौका देगी।

Wed, 18 Jul 2018
4
लोकसभा सत्र में दुष्यंत के पिटारे से निकलेंगे युवा और किसानों से जुड़े मुद्दे


हिसार: लोसकभा सत्र में सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरने के लिए सांसद दुष्यंत चौटाला ने विशेष रणनीति बनाई है। इस सेशन में सांसद न केवल सरकार से रोजगार, फसल बीमा योजना, महिला विरूद्ध अपराध सहित विभिन्न मुद्दों पर जवाब मांगेंगे बल्कि देश भर में जिला प्रशासन द्वारा सांसदों के प्रति विकास कार्यों में असहयोगात्मक रवैये को भी लोकसभा के पटल पर रखेंगे। दस अगस्त तक चलने वाले इस लोकसभा के इस सत्र में स्थानीय मुद्दों के साथ साथ प्रदेश में हुए दवा घोटाले का मुद्दा भी उठाएंगे। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने सरकार से उपरोक्त मुद्दों पर जवाब तलबी करने के लिए न केवल लिखित प्रश्न पूछे हैं बल्कि सदन में जीरो ऑवर व नियम 377 के तहत हिसार लोकसभा के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि बुधवार से शुरू हो रहे सेशन के लिए 100 से अधिक लिखित प्रश्न तैयार किए हैं। सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट सांसद आदर्श ग्राम योजना का जमीनी स्तर पर क्या हश्र है, इसका खुलासा लोकसभा के पटल पर करेंगे। सांसद ने बताया कि हिसार ही नहीं देश के अधिकतर सांसदों के साथ जिला प्रशासन ऐसा ही रवैया अपना रहा है जैसा कि मेरे लोकसभा क्षेत्र के गोद लिए गांवों के साथ प्रशासन अपना रहा है। लोकसभा में बताएंगे कि किस तरह से अधिकारी गोद लिए गांवों को तिरस्कृत कर रहे हैं। इन गांवों में राज्य सरकार की योजनाएं तो दूर केंद्र सरकार की एक भी योजना प्रभावी ढंग से लागू नहीं की जा रही है। एक बानगी तो देखिए, गोद लिए गांव घुसकानी में तो सरकार ने स्कूल की बिल्डिंग को तोड़ कर बच्चों को पढऩे के लिए टेंट में बैठा दिया। इतना ही नहीं स्कूल की बिल्डिंग का मेटिरियल भी सरकार ने लाखों रूपये में बेच कर अपना खजाना भर लिया। 
सांसद दुष्यंत ने बताया कि प्रधानमंत्री की एक और महत्वाकांक्षी फसल बीमा योजना औंधे मुंह गिरी है। इस मामले को भी वह फिर से लोकसभा में उठाएंगे और केंद्र सरकार से जवाब मांंगेगे कि किसान का प्रीमियम लेने के बाद भी हिसार के किसानों को बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा एक वर्ष बाद तक क्यों नहींं दिया जा रहा। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हिसार लोकसभा क्षेत्र के साथ साथ पूरे हरियाणा में पानी की किल्लत के मामले को भी प्रमुखता से लोकसभा में रखेंगे। हालात ये हैं कि लोगों को पीने का स्वच्छ पानी भी नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा कि दक्षिण हरियाणा के लोग आज भी पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं और हरियाणा सरकार ने अभी तक इन्हें पीने का पानी उपलब्ध करवाने के लिए कोई भी कारगर योजना लागू नहीं की। सांसद ने हैरानी जताते हुए कहा कि पेट्रोल एवं डीजल के भाव अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तुलनात्मक रूप से काफी कम हैं परन्तु केंद्र की भाजपा सरकार आज तक पेट्रोल डीजल के भाव कम करने की बजाय लगातार बढ़ा रही है। उन्होंने बताया कि बुधवार से शुरू हो रहे लोकसभा के सत्र में सरकार से यह भी पूछा जाएगा कि पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों को रोकने के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है।
युवा सांसद ने बताया कि हरियाणा सहित देशभर में गेस्ट टीचर पर नौकरी हटने की तलवार हर समय लटकती रहती है। उन्होंने कहा कि इस बार सेशन में वह हरियाणा के गेस्ट टीचर्स को पक्का करने की मांग भी उठाएंगे। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि प्रदेश भर के कर्मचारी पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर पिछले कई महीनों से आंदोलनरत हैं और सरकार उनकी अनुसनी कर रही है। सांसद ने कहा कि पुरानी पेंशन की बहाली की कर्मचारियों की मांग जायज है और मांग को वह लोकसभा में जोर-शोर से उठाएंगे। 
राखी गढ़ी गांव के सैंकड़ों परिवारों को घर उजाडऩे एवं बीड़ बबरान, ढंढूर, झिड़ी सहित पांच गांवों को उजाडऩे के मामले  को भी लोकसभा में उठाएंगे तथा केंद्र सरकार से उन्हें न उजाडऩे की गुजारिश भी करेंगे। इस बार लोकसभा में सांसद दुष्यंत प्रदेश भर में पुरातत्व महत्व की इमारतों के रख-रखाव के लिए उठाए जा रहे कदमों को लेकर भी जवाब मांगेगे। 

Wed, 18 Jul 2018
5
दरिया की जिद है रास्ता नहीं दूंगा...पर तय हमने भी कर लिया समुद्र को पार करना- दुष्यंत


भिवानी: आज फिर जेल भरो आंदोलन के समापन समारोह में दुष्यंत चौटाला शायराना अंदाज में दिखे। अनाज मंडी में जेल भरो आंदोलन के समापन समारोह में उमड़े जनसैलाब को संबोधन के दौरान दुष्यंत ने अपनी बात कुछ इन शब्दों में समाप्त की...दरिया की जिद है रास्ता नहीं दूंगा... पर तय हमने भी कर लिया समुद्र को पार करना है। सांसद के इन पंक्तियों से पंडाल कई देकर तक तालियां की गडग़ड़ाहट से गूंजता रहा। दरअसल युवा सांसद ने शायराना अंदाज में भाजपा सरकार को ललकारा था। उन्होंने एसवाईएल नहर के निर्माण में हो रही देरी के संदर्भ में कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश आ चुका है परन्तु प्रदेश व केंद्र की भाजपा सरकार एसवाईएल नहर को लेकर टस से मस नहीं हो रही है। सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपने पिता एवं भिवानी से सांसद रहे अजय चौटाला का जिक्र किया तो..एक बार पंडाल में खामोशी सी पसर गई पर दुष्यंत ने ज्यों ही....सड़क पर गढ्ढे, खेत बिन पाणी, अजय नै याद करै उसकी भ्याणी कहा तो पंडाल में मौजूद लोगों का जोश चरम पर पहुंच गया। 
नई अनाज मंडी में उमड़े हजारों लोगों की भीड़ को संबोधित करते हुए युवा सांसद ने कहा कि चार वर्ष के खोखले विकास के जश् न में देश एवं प्रदेश की भाजपा सरकार डूबी हुई है। भाजपा को हरियाणा के हितों की तनिक भी चिंता नहीं है। सुप्रीम कोर्ट का फैसला हरियाणा के हक में है परन्तु अभी तक केंद्र की भाजपा सरकार ने एक बार भी एसवाईएल नहर के निर्माण का जिक्र तक नहीं किया। उन्होंने कहा कि एसवाईएल नहर से प्रदेश के किसानों के किसानों का भाग्य सीधा जुड़ा है। उन्होंने कहा कि भाजपा का रोजगार देने का वायदा पूरी तरह से झूठा साबित हुआ है और प्रदेश के युवा रोजगार के लिए दर-दर भटक रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की मनोहर लाल खट्टर सरकार पहले से रोजगार प्राप्त युवाओं को नौकरी से निकालने पर तुली हुई है। उन्होंने कहा कि सरकारी महकमों को प्रदेश की भाजपा सरकार ठेके पर देने पर अड़ी हुई है। 
सांसद दुष्यंत चौटाला ने सीएम मनोहर लाल खट्टर पर कटाक्ष करते हुए कहा कि ऊंट रेहड़े पर नाच कर टेल पर पानी पहुंचाने का दम भरने वाले सीएम साहब टेल तो दूर प्रदेश के वाटर वक्र्सों में भी पीने का पानी नहीं है। मुख्यमंत्री प्रदेश की जनता को यह बताएं कि आज तक दिल्ली को 800 क्यूसिक पानी हरियाणा का क्यों दिया जा रहा है और एसवाईएल के लिए मुख्यमंत्री एक बार भी प्रधानमंत्री से मिले। 
महिलाओं की उमड़ी भीड़ से गदगद युवा सांसद ने कहा कि मातृशक्ति के आशीर्वाद से ही इस बार प्रदेश में इनेलो की सरकार बनाएगी। उन्होंने सरकार के 24 घंटे बिजली देने के दावों की पोल खोलते हुए कहा कि प्रदेश में एक भी गांव ऐसा नहीं है जहां निर्बाध रूप से 10 घंटे भी बिजली आती हो। गांव में सिर्फ एक से दो घंटे ही बिजली आती है और टयूबवैल के लिए बिजली में कटौति कर रखी है। उन्होंने प्रदेश के युवाओं से आह्वान किया कि वे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के मार्ग दर्शन में सरकार की ईंट से र्इंट बजाएं। सांसद ने अपना संबोधन कुछ यूं कहते हुए समाप्त किया कि अभी तो हम हैं लगे हालात बदलने में, किसान-कमेरे-युवा के साथ चलने में, देखने लगे हैं हवाओं में ताकत कितनी है, हमें वक्त नहीं लगेगा, इस देश का तख्त बदलने में।   

Wed, 18 Jul 2018
6
भाजपा द्वारा आश्वासन न मिलने पर 18 अगस्त को हरियाणा बंद का आयोजन करेंगे- अभय चौटाला 


भिवानी : एसवाईएल कैनाल के निर्माण के लिए चल रहे वर्तमान जेल भरो आंदोलन के अंतिम चरण में इनेलो एवं बसपा गठबंधन के कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए नेता विपक्ष चौधरी अभय सिंह चौटाला ने घोषणा की कि यदि भाजपा सरकार इसके निर्माण को शुरू करने बारे कोई संतोषजनक आश्वासन नहीं दे सकी तो यह गठबंधन 18 अगस्त को प्रदेशभर के शहरों एवं कस्बों में ‘बंद’ का आयोजन करेगा। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि इस संबंध में प्रदेशभर के व्यापारियों ने अपने सहयोग का आश्वासन गठबंधन को दिया है।
नेता विपक्ष ने यह भी कहा कि सरकार के किसी संतोषजनक आश्वासन के अभाव में इनेलो आगामी विधानसभा सत्र को भी बाधित करेगा। इस प्रकार इस सरकार पर इनेलो-बसपा गठबंधन तब तक दबाव बनाता रहेगा जब तक केंद्र और राज्य सरकार मिलकर हरियाणा को उसके हिस्से का नदी जल एसवाईएल के माध्यम से नहीं दिलवा देती। इसके अतिरिक्त दादूपुर-नलवी नहर के निर्माण को फिर से शुरू करने और मेवात क्षेत्र के लिए आगरा कैनाल से समय पर जल लाने के लिए भी गठबंधन निरंतर प्रयास करता रहेगा। 
अभय सिंह चौटाला ने एसवाईएल नहर के निर्माण न होने का दायित्व चौधरी बंसीलाल पर डाला और कहा कि उन्हीं के कारण इस नहर के निर्माण में प्रारंभ से ही बाधाएं डाली गई। उनके विपरीत इस नहर के निर्माण में सबसे महत्वपूर्ण योगदान चौधरी देवीलाल का है जिन्होंने इसे प्रारंभ करने के लिए पंजाब सरकार को पहले एक करोड़ रुपए की राशि दी थी। उसके पश्चात वर्ष 1987 में पुन: मुख्यमंत्री बनने पर चौधरी देवीलाल ने ही नहर निर्माण के अधिकांश कार्य को पूरा करवा लिया था। तदोपरांत चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने अपने प्रयासों से एसवाईएल नहर के मुकद्दमे की पैरवी उच्च एवं सर्वोच्च न्यायालय में सफलतापूर्वक करवाई। यह दुर्भाग्य की बात है कि सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय जब हरियाणा के पक्ष में आ गया तब भी बाद की सरकारें उसके आदेशों का पालन करवाने में पूरी तरह से असफल रहीं। 
नेता विपक्ष ने जनता से यह आह्वान किया कि वे इनेलो-बसपा गठबंधन को उसी प्रकार का जनादेश दें जैसा उन्होंने वर्ष 1987 में दिया था ताकि उस जनादेश के आधार पर वह एक भगीरथी प्रयत्न करते हुए राज्य में एसवाईएल के निर्माण को पूरा करवाकर दक्षिण हरियाणा के किसानों की जल समस्या का समाधान कर सकें। उन्होंने आश्वासन दिया कि जनादेश मिलने पर वह ऐसा ही करेंगे।
नेता विपक्ष ने मोदी सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा ने वर्ष 2014 के चुनाव को झूठे वायदों की नींव पर जीता था। इसके अतिरिक्त तब जनता बदलाव की तलाश में थी और कांग्रेस का कोई अन्य विकल्प न होने के कारण भाजपा को बहुमत दिया गया। परंतु अब देश में तीसरा मोर्चा एक ठोस विकल्प के रूप में उभरा है और जहां जनता लोकसभा में बहन मायावती के नेतृत्व में इस मोर्चे को समर्थन देगी वहीं राज्य में इनेलो और बसपा का गठबंधन विधानसभा चुनाव में विजय हासिल करेगा। उनकी इस बात की पुष्टि करते हुए राज्य बसपा के अध्यक्ष प्रकाश भारती ने कहा कि इनेलो-बसपा का गठबंधन एक मजबूत चट्टान की तरह अडिग है क्योंकि दोनों दलों के लिए जनकल्याण सर्वोपरि है। उन्होंने यह भी दावा किया कि इनेलो और बसपा में टिकटों को लेकर भी विवाद को लेकर कोई मसला नहीं है क्योंकि इसका बंटवारा उसी दिन हो गया था जिस दिन यह गठबंधन ठोस रूप में लोगों के सामने आया। 
इनेलो के प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने राज्य में भाजपा सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि यह दुर्भाग्य की बात है कि भाजपा ने किसानों के साथ स्वामीनाथन आयोग रिपोर्ट की सिफारिशों को लागू करने के मामले में धोखा किया है। सही लागत मूल्य के अनुपात में मुनाफा न देकर भाजपा द्वारा जो किसान हितैषी होने का ढोल पीटा जा रहा है उसे प्रदेशाध्यक्ष ने एक भद्दा मजाक बताया है। प्रदेश सरकार हर क्षेत्र में, विशेषकर कानून व्यवस्था के मामले में, असफल रही है। इसके अतिरिक्त एसवाईएल के मामले में तो यह सरकार एकदम असहाय सिद्ध हुई है। 
हिसार के सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपार जनसमूह का डॉ. अजय सिंह चौटाला की कर्मभूमि में स्वागत करते हुुए कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री राज्य के लोगों की समस्याओं के प्रति पूरी तरह से संवेदनहीन हैं। उन्होंने कहा कि एक तरफ वे दावा करते हैं कि लोहारू हलके के टेल तक वे पानी पहुंचा चुके हैं परंतु वास्तविकता उससे बहुत दूर है। हकीकत यह है कि राज्य के सीमित जल संसाधनों में से भी उन्होंने 800 क्यूसिक दिल्ली को देकर अपने हरियाणा विरोधी होने का सबूत दिया है क्योंकि वर्तमान में हरियाणा के पास अपना पीने का भी पूरा जल उपलब्ध नहीं है। जेल भरो आंदोलन के आज आखिरी दिन 37810 कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की गई। अभय सिंह चौटाला, अशोक अरोड़ा, प्रकाश भारती एवं दुष्यंत चौटाला सहित गिरफ्तार होने वालों में अन्य मुख्य लोग पूर्व सीपीएस रामपाल माजरा, जिला प्रधान सुनील लाम्बा, बसपा प्रभारी हरबक्श सिंह, इनेलो सांसद चरणजीत सिंह रोड़ी व रामकुमार कश्यप, पूर्व डिप्टी स्पीकर गोपीचंद गहलोत, इनेलो विधायक रणबीर प्रजापति, ओमप्रकाश बरवा, अनूप धानक, प्रो. रविंद्र बलियाला, बलकौर सिंह, रामचंद कम्बोज, मक्खन लाल सिंगला, बसपा प्रदेश सचिव कृष्ण जमालपुर, कर्ण चौटाला, प्रदेश प्रवक्ता प्रवीण आत्रेय, नरेंद्र गागड़वास, सभी विधायक-पूर्व विधायकों सहित हजारों गठबंधन कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

Wed, 18 Jul 2018
7
महिलाएं, बच्चियां अपने ही घर में सुरक्षित नहीं - कृष्णा फौगाट  

सिरसा: इनेलो महिला जिलाध्यक्ष कृष्णा फौगाट ने कहा कि प्रदेश में जब से भाजपा सत्तारूढ़ हुई है तभी से महिलाओं के प्रति अपराधों में बेतहाशा बढ़ौतरी हुई है। सोमवार को जारी बयान में इनेलो महिला जिलाध्यक्ष ने कहा कि पूरे प्रदेश में हालात ये हैं कि महिलाएं और छोटी बच्चियां सार्वजनिक तो क्या अपने घरों में ही सुरक्षित नहीं हैं। नेशनल क्राइम रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा में महिलाओं से दुव्र्यवहार की सर्वाधिक घटनाएं हुई हैं जो सभी हरियाणावासियों के लिए शर्मसार करने वाली है। उन्होंने कहा कि चुनावों से पूर्व भाजपा ने प्रदेशवासियों से हरियाणा के समग्र विकास, महिलाओं के उत्थान और सुरक्षा, कर्मचारियों को पंजाब की तर्ज पर वेतन देने, किसानों को डॉ. स्वामीनाथन आयोग की तर्ज पर फसलों के भावों का लाभ देने के लिए आश्वासन दिए गए थे मगर लंबा समय बीतने के बावजूद ये आश्वासन केवल आश्वासन ही बने हुए हैं। कृष्णा फौगाट ने कहा कि भाजपा सरकार केवल बलात्कार और छेड़छाड़ के प्रति कानून बनाकर ही अपनी जिम्मेदारी की इतिश्री कर रही है जबकि हरियाणा में महिलाओं के प्रति माहौल इतना असुरक्षित हो गया है कि वे दिन में भी अपने घरों से निकलने में संकोच करती हैं। जिले के गांव कैरांवाली में दफनाई गई छोटी बच्ची का उदाहरण देते हुए फौगाट ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों के प्रति बने असुरक्षित माहौल को देखते हुए अभिभावक भी बच्ची को जन्म देने से गुरेज कर रहे हैं। उन्होंने पुरजोर कहा कि इनेलो ही एकमात्र ऐसा राजनीतिक दल है जिसमें व्यापारियों, महिलाओं, युवाओं, मजदूर, किसान और कमेरे वर्ग के हित पूरी तरह सुरक्षित हैं। 

Mon, 16 Jul 2018
8
प्रदेश में चौटाला के नेतृत्व में बनेगी इनेलो, बसपा गठबंधन की सरकार- अशोक अरोड़ा


कुरुक्षेत्र, 16 जुलाई: भाजपा के कुशासन से दु:खी जनता ने आगामी विधानसभा चुनावों में इनेलो, बसपा गठबंधन को सता सौपने का मन बना लिया है और आगामी चुनावों में भाजपा और कांग्रेस का सुपड़ा साफ करके जनता प्रदेश की बागडोर चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में गठबंधन की सरकार को सौंपेगी। यह दावा इनेलो के कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने गांव किरमच में एक सभा को संबोधित करते हुए किया। इस अवसर पर पं. रमेश, पं. रामलाल सहित पाल समाज के मांगेराम, सुरेश, सतपाल, रोशन, पूर्व पंच ओमप्रकाश तथा सोहनपाल पंचायत सदस्य ने अपने समर्थकों सहित भाजपा व कांग्रेस छोडक़र इनेलो में शामिल होने की घोषणा की। अशोक अरोड़ा, रणबीर सिंह बूरा, चन्द्रभान वाल्मिकी, पूर्व पार्षद ओमप्रकाश ओपी, रमेश , प्रवीण कश्यप, सहित अनेक नेताओं ने पार्टी में शामिल होने वालों का स्वागत करते हुए कहा कि इन लोगों के आने से इनेलो को और अधिक बल मिलेगा। इनेलो नेताओं  ने पार्टी में शामिल होने वालों को आश्वासन दिया कि उन्हें पूरा मान सम्मान दिया जाएगा।
इनेलो के कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा ने कहा कि कांग्रेस के कुशासन और भ्रष्टाचार से दु:खी होकर जनता ने भाजपा को सत्ता सौंपी थी लेकिन भाजपा जनता से किये गए वायदों पर खरी नही उतरी। भाजपा के राज में  भ्रष्टाचार जोरों पर है, बिना पैसे के कोई काम नही होता। प्रदेश की जनता समस्याओं से ग्रस्त है तो वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों से गिल्ली-डंडा खेलने में मस्त हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश का हर वर्ग भाजपा की सरकार से दु:खी है। कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सडक़ों पर हैं। व्यापारियों का काम-धंधा ठप हो चुका हैं। युवाओं को रोजगार नही मिल रहा। किसानों को उनकी फसलों के उचित भाव नही मिल रहे। गरीब मजदूरों को रोटी के लाले पड़े हुए हैं। भाजपा ने अपने चुनावी घोषणा-पत्र में किया गया कोई भी वायदा पूरा नहीं किया। एस वाई एल का पानी लाने में कांग्रेस और भाजपा सरकारें दोनों पूरी तरह विफल रही हैं। एस वाई एल का जो भी काम हुआ वह केवल इनेलो के राज में हुआ है। इनेलो ने पूरे प्रदेश में एसवाईएल के मामले को लेकर जेल भरो आंदोलन छेड़ा हुआ है और जब तक हरियाणा में एस वाई एल का पानी नही आता तब तक इनेलो का आंदोलन जारी रहेगा।

Mon, 16 Jul 2018
9
हर जिले की तरह ऐतिहासिक होगा इनेलो-बसपा का भिवानी में जेल भरो आंदोलन- ताहिर हुसैन


एसवाईएल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण के लिए 17 जुलाई को भिवानी में होने वाले इनेलो-बसपा के जेल भरो आंदोलन का न्यौता देने के लिए नूंह विधानसभा क्षेत्र के बाबूपुर, टेरकपुर, हुसैनपुर, बूराका, निजामपुर, मालब, नूंह आदि में लोगों को निमंत्रण देने पंहुचे इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन के सुपुत्र व इनेलो नेता चौ. ताहिर हुसैन एडवोकेट। चौ. ताहिर हुसैन ने कहा कि इनेलो-बसपा एस वाई एल, मेवात कैनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण की लड़ाई लगातार लड़ रही है। लोगों को अगर सिंचाई के लिए साफ पानी चाहिए तो 17 जुलाई को भिवानी में होने वाले इनेलो-बसपा के जेल भरो आंदोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें। 17 जुलाई को आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। इसलिए लोगों को ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस आंदोलन में हिस्सा लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि इनेलो पार्टी चौ. ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में एस वाई एल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी के निर्माण के मुद्दे को विधानसभा के अंदर व बाहर लगातार उठाती रही है। इनके निर्माण को लेकर  इनेलो नेताओं को दिल्ली में लाठियाँ खानी पड़ी तथा पटियाला जेल में कई दिन गुजारने पड़े। उन्होंने कहा कि एसवाईएल के निर्माण से सबसे ज्यादा फायदा दक्षिण हरियाणा तथा मेवात क्षेत्र को होगा। आज वे इनेलो सुप्रीमो चौ. ओमप्रकाश चौटाला व जलयुद्ध नेता चौ. अभय सिंह चौटाला के आभारी हैं जिन्होंने एस वाई एल के साथ मेवात केनाल के निर्माण के रूप में मेवात क्षेत्र की लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे बसपा व बहन कुमारी मायावती जी का भी आभार व्यक्त करते हैं जिन्होंने किसान-दलित के अधिकारों के लिए इनेलो के साथ गठबंधन कर इस लड़ाई में पूरा सहयोग कर रही हैं।
इनेलो नेता चौ. ताहिर हुसैन ने कहा कि आज क्षेत्र को जो सिंचाई के नाम पर जो पानी मिल रहा है वे दिल्ली के सीवेज व उद्योगों से निकलने वाला जहरीला पानी है। आज सुप्रीम कोर्ट का फैसला एस वाई एल के निर्माण के पक्ष में आने के बावजूद भी भाजपा सरकार एस वाई एल का निर्माण नहीं करा रही है। 17 जुलाई को भिवानी में होने वाले जेल भरो आंदोलन पर पूरे देश की मीडिया और केन्द्र सरकार की नजर हैं। उन्होंने लोगों से पार्टी बाजी से ऊपर उठकर आम आदमी की इस लड़ाई में सहयोग करने तथा जेल भरो आंदोलन में ज्यादा से ज्यादा सँख्या में भाग लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि एस वाई एल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी का निर्माण जल्द से जल्द कराना चाहिए। ये हरियाणा वासियों का हक़ है।
हुसैन ने कहा कि एस वाई एल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी नहर के पानी को लेकर इनेलो व बसपा का संघर्ष रंग लाएगा। भिवानी में होने वाला इनेलो-बसपा का जेल भरो आंदोलन जलयुद्ध नायक चौ. अभय सिंह चौटाला की अगुवाई में होगा। यह आंदोलन इस मुद्दे पर सरकार को झुकने को मजबूर कर देगा। स्वर्गीय चौधरी देवीलाल ने प्रदेश के किसान सहित हर वर्ग को खुशहाल बनाने के लिए जीवनपर्यंत संघर्ष किया, उन्हीं के पदचिन्हों पर आज इनेलो सुप्रीमों चौ. ओमप्रकाश चौटाला के आशीर्वाद से इनेलो नेता खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला की अगुवाई में एसवाईएल, मेवात कैनाल व दादूपुर नलवी नहर की लड़ाई लड़ रही है। उन्होंनें कहा कि 17 जुलाई को जलयुद्ध नायक चौ. अभय सिंह चौटाला व इनेलो बसपा के वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में भिवानी में हजारों की तादाद में भीड़ जुटेगी तथा इनेलो-बसपा द्वारा प्रदर्शन व जेल भरो आंदोलन कर गिरफ्तारियाँ दी जाएंगी। एस वाई एल, मेवात केनाल व दादूपुर नलवी नहर के निर्माण के लिए इनेलो-बसपा हर कुर्बानी देने के लिए तैयार हैं। 
उन्होंने कहा की भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आमजन में भारी रोष है और अब लोग एकजुटता से सरकार को सत्ता से बेदखल कर इनेलो व बसपा गठबंधन की सरकार बनाने का मन बना चुके हैं। बसपा इनेलो गठबंधन के कार्यकर्ता आमजन को साथ लेकर जन मुद्दों के लिए संघर्ष को तैयार हैं। केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार एसवाईएल, मेवात फीडर कैनाल व दादूपुर नलवी नहर के मामले में चुप्पी साधे हुए हैं। यह जेल भरो आंदोलन सरकार की चुप्पी तोड़ने का काम करेगा। गठबंधन का यह संघर्ष एसवाईएल, मेवात केनाल और दादूपुर नलवी नहर का पानी नहीं मिलने तक जारी रहेगा।  यह आंदोलन राजनीति का ना हो कर अपितु एक आम जन आंदोलन है। इसलिए आम जन पार्टी बाजी से ऊपर उठकर इस लड़ाई में इनेलो-बसपा का सहयोग करें।
इनेलो विधायक चौ. ताहिर हुसैन ने कहा कि प्रदेश में आने वाली सरकार इनेलो-बसपा की होगी तथा मुख्यमंत्री चौ. औमप्रकाश चौटाला होंगे। देश में तीसरे मोर्चे की सरकार बनेगी, जिसका नेतृत्व बहन कु. मायावती जी करेंगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में इनेलो-बसपा की सरकार बनने पर प्रदेश के हर वर्ग के लोगों का विकास होगा। युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। मेवात क्षेत्र जो विकास व रोजगार के मामले में अन्य जिलों से पिछड़ गया है, उसे उसका पूरा हक़ मिलेगा। उन्होंने कहा की यह इनेलो-बसपा गठबंधन जनता की भावनाओं के अनुरूप है तथा इस गठबंधन से प्रदेश की राजनीति में हलचल मच गई है। उन्होंने कहा की प्रदेश का हर वर्ग वर्तमान सरकार की कार्यप्रणाली से दुखी है। इस गठबंधन से गरीब मजदूर किसान के साथ साथ जहाँ आए दिन दलितों पर हो रहे अत्याचार का सफाया होगा वही हताश बेरोजगार युवा वर्ग को रोजगार देने का काम किया जाएगा।   

Mon, 16 Jul 2018
10
जीएसटी के नाम पर व्यापारियों को लूटा जा रहा है- दिग्विजय चौटाला



भिवानी, 14 जुलाई: छोटा व्यापारी देश की अर्थ व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने में सबसे बड़ा सहायक होता है लेकिन आज सरकार छोटे व्यापारी को खत्म करने पर तुली हुई है। यह आरोप इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला ने आज भिवानी मे व्यापारियों के एक प्रतिनिधिमण्डल से व्यापारी राज कुमार मित्तल के निवास स्थान पर मुलाकात करते हुए लगाए। इस अवसर पर व्यापारियों ने फूलमालाओं से इनेलो के युवा नेता का भव्य स्वागत किया और सरकार के द्वारा व्यापारियों के खिलाफ हो रही ज्यादतियों से अवगत भी करवाया। उन्होंने कहा कि आज खासकर छोटे व्यापारियों को आंकड़ों में उलझाकर जीएसटी के नाम पर काला कानून लागू कर दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विदेशों में यात्रा करके करोड़ों रूपए बर्बाद कर चुके हैं जबकि यदि वो इतना पैसा हिंदुस्तान के व्यापारियों पर भरोसा कर उन्हें देश के उत्थान के लिए प्रेेरित करते तो तस्वीर ही कुछ अलग होती।
इनसो नेता ने कहा कि भिवानी से उनके पिता डा. अजय सिंह चौटाला व स्वयं उनका गहरा लगाव है। इसलिए वो भिवानी के कोने कोने से प्रत्येक कार्यकर्ता का हालचाल जानते रहते हैं। दिग्विजय ने कहा कि आज प्रदेश सरकार हो या कें द्र की भाजपा सरकार आए दिन अलग अलग तरीके से टैक्स को लागू कर व्यापारियों को परेशान किया जा रहा है। आज छोटा व्यापारी जहां खत्म होने की कगार पर है वहीं नरेंद्र मोदी जो सत्ता में आने से पूर्व अम्बानी, अडानी पर आरोप लगाते हुए दिखते थे वो उन्हें आज हजारों करोड़ का सीधा-सीधा फायदा दे रहे हैं, लेकिन भाजपा सरकार की मंशा हमेशा दोगले दर्जे की रही है। ये लोग धना सेठों को ओर उभारने में लगे रहते हैं जबकि छोटे व्यापारियों केा खत्म करने में लगे रहते हैं। जहां पूर्व की कांग्रेस सरकार में टूजी स्पेक्ट्रम घोटाला, कोयला घोटाला, डीएलएफ घोटाला, कोमन वैल्थ घोटाालों से देश की किरकिरी हुई थी वहीं आज भाजपा शासनकाल में जिनकी गोटिया सरकार से फिट हैं वो आए दिन देश को छोडक़र करोड़ों अरबो रूपए लेकर भाग रहे हैं। उन्होंने कहा कि गरीब के बच्चें को विधानसभा व संसद में पहुंचाने के लिए उनके राजनीतिक उनके  राजनीतिक भविष्य को जीवित रखने के लिए 5 अगस्त को कैथल में होने वाले इनसो के 16वें स्थापना दिवस पर ज्यादा से ज्यादा संख्या में पहुंचने का आह्वान किया। दिग्विजय ने कहा कि छात्र संघ चुनाव का बहाल होना अति आवश्यक है यदि प्रदेश के अंदर छात्र संघ चुनाव होते हैं तो किसान, गरीब, दलित पिछड़े का बच्चा अपना राजनीतिक जीवन शुरू कर सकता है और कॉलेज कै डर का पढ़ा लिखा छात्र नेता आगे चलकर देश की उन्नति में विधानसभा और संसद में अच्छा सहयोग दे सकता है। उन्होंने ज्यादा से ज्यादा संख्या में 5 अगस्त को कैथल में पहुंचने का आह्वान किया। 
 इस अवसर पर व्यापारी राज कुमार मित्तल, रामनिवास गोयल, रघुनंदन पंसारी, नरेंद्र सर्राफ, जिला प्रवक्ता राजू मेहरा, प्रदीप गोयल, होश्यार सिंह थानेदार, रमेश कुमार अग्रवाल, शंकर लाल अग्रवाल, श्रीकिशन अग्रवाल, विष्णु गोयल, प्रकाश मित्तल, अमन गुप्ता, अधिवक्ता अशीष मित्तल, इंद्र कुमार, भोपाल गोयल, रामबाबू गोयल, विष्णू पूणीवाला, सुरजभान पंसारी, राजा कुम्हारी वाला, इनसो अध्यक्ष सेठी धनाना, चेयरमैन मंदीप सुई, अशोक बाली शर्मा, संदीप चौधरी, विवेक ख्यालिया, अधिवक्ता विकास बिडलान, राजबीर सैन, प्रो. जगमेंद्र सांगवान, रमेश भौरिया, आशू वाल्मीकि, सन्नी बत्रा,  सचिन जताई, दिनेश नम्बरदार, विक्रम धनाना, मंदीप धनाना, सूरज मलिक, मनमोहन चाहर, भौम सिंह, इकबाल सिंह सेहरावत, राहुल शर्मा मुण्ढाल, प्रदीप बिधनोई, संजय पार्षद, मदन जूसवाला, अजय तिगड़ाना, सुशील बामल, ओमी बापोड़ा, रामेश्वर चांग, संजय शर्मा, बिजेंद्र टाक सहित अनेक लोग उपस्थित थे।

Sat, 14 Jul 2018
11


इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने मुख्यमंत्री द्वारा मेवात की प्रमुख मांगों की मंजूरी ना देने पर गहरा दुख जताया 



नूंह से इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि आज मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर के फिरोजपुर झिरका दौरे पर एस वाई एल जो हरियाणा के साथ-साथ मेवात की भी जीवनरेखा है का नाम तक ना लेना व मेवात फीडर केनाल के बारे में यह कहना कि पहले चरण में सिर्फ 100 क्यूसिक क्षमता की बनेगी से मेवातवासियों में भारी रोष व निराशा है। मेवात केनाल जो मेवात का हक़ है तथा जिसका पानी हरियाणा से हरियाणा के ही हिस्से को मिलना था तथा मेवात फीडर केनाल को केन्द्रीय जल आयोग (CWC) ने मंजूरी दे रखी है जिसमें सालावास से यमुना का 700 क्यूसिक पानी के एम पी के साथ साथ गुड़गांव कैनाल की मार्फत जिला नूंह, पलवल व गुड़गांव जिले के सोहना हलके को मिलना है और यह पानी का हिस्सा 1994 में हरियाणा के पुन: बंटवारे में हो चुका है और मुख्यमंत्री जी मेवात विकास बोर्ड की 2016 की बैठक में मंजूर किया था कि ककरोई हैड से  100-100 क्यूसिक पानी की तीन पाईप लाईनों द्वारा 300 क्यूसिक पानी के एम पी के साथ साथ गुड़गांव कैनाल में  दिया जाएगा। आज मुख्यमंत्री के मेवात दौरे से मेवात के लोग इस उम्मीद में थे कि 700 क्यूसिक ना सही लेकिन 300 क्यूसिक स्वच्छ पानी हमें मिलेगा क्योंकि अभी तो यमुना में 600 क्यूसिक पानी की बजाए मेवात, सोहना व पलवल जिले का तहसील हथीन क्षेत्र दिल्ली व फरीदाबाद की फैक्ट्रियों व सीवरेज से निकलने वाले जहरीले पानी को ले रहे हैं। इनेलो विधायक चौ0 ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि आज मुख्यमंत्री जी द्वारा मेवात दौरे पर यह कहना कि मेवात फीडर केनाल के अंतर्गत 100 क्यूसिक पानी दिया जाएगा बहुत ही निंदनीय है। उन्होंनें कहा कि हरियाणा प्रदेश के लोग एस वाई एल के लिए तो पंजाब को दोषी ठहराते हैं लेकिन मेवात फीडर कैनाल के लिए किसे दोषी मानेंगे? इससे बड़ी ज्यादती और कुछ नहीं हो सकती। मेवात केनाल मेवात का हक़ है जिसमें हरियाणा प्रदेश का पानी हरियाणा के हिस्से को मिलना था। 
इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि मेवातवासियों ने मुख्यमंत्री से आज बहुत सी उम्मीदें लगा रखी थी। उन्हें बेसब्री से इंतजार था कि आज मुख्यमंत्री मेवात वासियों की वर्षों पुरानी मांगों को मंजूर कर पूरा करके जाएंगे, लेकिन मेवातवासियों को हमेशा की तरह निराशा ही हाथ लगी। आज मुख्यमंत्री मेवात क्षेत्र की प्रमुख मांगों जैसे -  हैवी ड्राईविंग लाईसेंस का नवीनीकरण, युनिवर्सिटी, रेलवे लाईन, एस वाई एल,  मेवात के स्कूलों को अपग्रेड, कोटला झील का पूर्ण विस्तार व पर्यटन स्थल स्थापित करना, गुड़गांव से अलवर तक राष्ट्रीय राजमार्ग को फोरलेन करने आदि प्रमुख मांगों पर चुप्पी साधते हुए नजर आए। मुख्यमंत्री ने उपरोक्त मांगों का नाम तक नहीं लिया।
इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि मेवात क्षेत्र के लगभग 35000 हैवी ड्राईवर अपने लाईसेंसों के नवीनीकरण की मंजूरी के लिए इंतजार कर रहे थे लेकिन उन्हें भी निराशा ही हाथ लगी। हैवी ड्राईविंग लाईसेंसों के नवीनीकरण की मंजूरी खुद मुख्यमंत्री ने मेवात विकास बोर्ड की बैठक में की थी लेकिन उन पर भी आज तक कोई कार्यवाही शुरू नहीं हुई। इनेलो विधायक चौ. ज़ाकिर हुसैन ने कहा कि मेवात क्षेत्र की उपरोक्त प्रमुख माँगों को इनेलो सुप्रीमो चौ. ओमप्रकाश चौटाला के आशीर्वाद व खेलरत्न चौ. अभय सिंह चौटाला के नेतृत्व में इनेलो पार्टी विधानसभा के अंदर व बाहर लगातार उठाती रही है। इन मांगों में कुछ मांगें ऐसी हैं जिनकी खुद मुख्यमंत्री मंजूरी की घोषणा कर चुके हैं, लेकिन बड़े अफसोस की बात है कि उन घोषणाओं पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। बड़े आश्चर्य की बात है कि मुख्यमंत्री की घोषणाओं को विभागों के अधिकारियों द्वारा नजर अंदाज किया जा रहा है। उन्होंनें कहा कि भारत देश को आजाद हुए लगभग 71 वर्ष हो गए तथा हरियाणा को बनें 52 वर्ष हो गए लेकिन आज भी मेवात क्षेत्र हरियाणा प्रदेश का सबसे पिछड़ा क्षेत्र है, यह तथ्य केन्द्र सरकार ने जिला नूंह को देश के अति पिछड़े 115 जिलों में शामिल करके मान लिया है जबकि मेवात देश की राजधानी से मात्र 40 किलोमीटर है।  उन्होंनें कहा कि मेवातवासी देशभक्ति की अनूठी मिसाल है। हजारों मेवाती देश की आजादी की लड़ाई में शहीद हुए तथा हमेशा विदेशी आक्रमणकारियों, मुगलों, अग्रेजों आदि से जमकर लोहा लिया तथा हजारों मेवायियों ने देश के लिए अपनी जान कुर्बान कर दी।

Sat, 14 Jul 2018 For more go to our Official Blog page >>